Press Release

English
Image: 

CGM-PRCC, HPCL conferred with Communicator of the year award

Mumbai 09th March 2020

श्री राजीव गोयल, मुख्य महाप्रबंधक, जन संपर्क निगम संचार-एचपीसीएल को 6 मार्च 2020 को बेंगलुरु में पब्लिक रिलेशन सोसाइटी ऑफ इंडिया (पीआरसीआई) द्वारा आयोजित 14वें ग्लोबल कम्यूनिकेशन कॉन्क्लेव में पीआरसीआई चाणक्य अवार्ड, कम्यूनिकेटर ऑफ द ईयर-बिक्री और विपणन से सम्मानित किया गया।

यह आवार्ड श्री बसव राज बोम्मई, गृह मंत्री, कर्नाटक द्वारा मेजर जनरल श्री सत्य प्रकाश, न्यायमूर्ति नागमोहन दास, कर्नाटक उच्च न्यायालय और श्री एम. बी. जयराम, मेन्टर चेयरमेन एमिरेट्स, पीआरसीआई की गरिमामय उपस्थिति में प्रदान किया गया।

चाणक्य अवार्ड जन संपर्क पेशेवरों के बीच एक प्रतिष्ठित पुरस्कार है जो पेशेवरों को एक अद्वितीय पीआर हॉल ऑफ फेम में शामिल करता है।

बिक्री एवं विपणन में व्यापक अनुभव रखने वाले, श्री राजीव गोयल एचपीसीएल के जन संपर्क एवं निगम संचार विभाग के प्रमुख हैं और उद्योग तथा अन्य प्लेटफार्मों के साथ सहज समन्वय और सुसंगत संचार के लिए निकटता से जुड़े हुए हैं। खुशियाँ बांटने का एचपीसीएल का उद्देश्य विभिन्न अभिनव पहलों एवं उपायों द्वारा संचारित किया जाता है जिससे संचार के बदलते तरीकों को अपनाया जा सके।

Shri Rajeev Goel, CGM, PRCC. HPCL was conferred with PRCI Chanakya Award, Communicator of the year-Sales & Marketing; at 14th Global Communication Conclave organized by Public Relation Society of India (PRCI) at Bengaluru, on 6th March 2020.

The awards were presented by Shri Basav Raj Bommai, Home Minister, Karnataka in gracious presence of Major General Shri Satya Prakash, Justice Nagmohan Das, Karnataka High Court and Shri M B Jayaram, Mentor Chairman Emeritus, PRCI.

Chanakya Award is a prestigious award amongst the PR professional as it inducts the professionals into an unique PR hall of fame.

With vast experience in Sales & Marketing, Shri Rajeev Goel went on to lead the Public Relations and Corporate Communications department of HPCL and is closely associated with Industry and other platforms for smooth coordination and coherent communication. HPCL’s aim of Delivering Happiness is communicated through various innovative steps and measures to adapt to the changing mode of communications.

Go Back